Panchtantra ki kahaniya (पंचतंत्र की कहानियां) – khayali pulav

Panchtantra ki kahaniya - Hindi Moral Story - khayali pulav Panchtantra ki kahaniya - पंचतंत्र की कहानियाँ असल में कहानियों का एक बहुत बड़ा संग्रह है। इसे "नीति शास्त्र" के नाम से भी जाना जाता है. इसी संग्रह में से कुछ short stories in hindi हम आप तक अपने ब्लॉग hindiera.com के माध्यम से पहुचाएंगे। इसी कड़ी में आज जो हम हिंदी कहानी लेकर आये हैं उसका नाम है : पंचतंत्र की कहानियां - हिंदी कहानी - ख्याली पुलाव एक गांव में एक पंडित रहता था। वह घर-घर जाकर भिक्षा मांगा करता था। भिक्षा में अक्सर लोग उसे आटा दे दिया करते थे। भिक्षा में मिले आटे … [Read more...]

Short Inspirational Stories for kids :3 प्रेरक कहानियाँ

Short Inspirational Stories for kids: बच्चों के लिए 3 प्रेरक कहानियाँ: Short Inspirational Stories for kids: Story No. 1 - सुखमय जीवन का सूत्र विजय अपनी class का बहुत होनहार student था। पिछले कई दिनों से वो अपनी class में काफी उदास सा रहता था। उसके शिक्षक जानते थे कि विजय के जीवन में पिछले कुछ दिनों में कई कडवे प्रसंग एक साथ घटित हो गए थे। उन्होंने उसे समझाने के उद्देश्य से अपने घर बुलाया। उसी दिन शाम को विजय उनके घर गया। विजय जब शिक्षक के घर पहुंचा तो उसे अंदर बैठाकर उन्होंने कहा, चलो आज हम शिकंजी पीते हैं। शिक्षक ने विजय के लिए शिकंजी बनाई … [Read more...]

Hindi Moral Story – ईश्वर की मदद

Moral Stories in Hindi Language - ईश्वर की मदद : एक गाँव में माधव नाम का एक किसान रहता था। वह ईश्वर का सच्चा भक्त था। उसके दिन का अधिकतर समय पूजा-पाठ और प्रभु की स्तुति में ही बीतता। इसलिए उसे इस बात का बहुत विश्वास था कि भगवान विपरीत से विपरीत हालातों में भी उसकी मदद करेंगे। उसे पूर्ण भरोसा था कि हालात चाहे कितने भी बुरे क्यों न हो जाये, लेकिन प्रभु उसे जरूर उन हालातों से बाहर निकाल लायेंगे और उसे बचा लेंगे। एक बार गाँव में बहुत जोरों से बारिश हुई और बाढ़ के हालात पैदा हो गए। बारिश बंद नहीं हो रही थे। इस वजह से धीरे-धीरे गाँव में पानी का स्तर … [Read more...]

महान संतों की कहानी

Stories for children- महान संतों की कहानी: 1. हिंदी कहानी - स्वामी रामतीर्थ की गुरु के लिए श्रद्धा: स्वामी रामतीर्थ बचपन में गाँव के ही एक मौलवी साहब से पढ़ा करते थे। अपनी शुरूआती पढाई समाप्त होने पर अब उन्हें स्कूल भेजा जाना था। स्वामी रामतीर्थ के पिता मौलवी साहब के पढ़ाने के तरीके से काफी प्रसन्न थे। वे रामतीर्थ को अच्छे से पढ़ाने के लिए मौलवी साहब को मासिक वेतन के अलावा भी कुछ भेंट देना चाहते थे। जब रामतीर्थ को पिता के इस विचार के बारे में पता चला तो वे बहुत खुश हुए। वे अपने पिता के पास गए और बोले,"पिताजी! मौलवी साहब को अपनी बढ़िया दूध देने … [Read more...]

राजा भीमसेन और कर्मफल

short hindi story karmfal कर्मफल: बहुत समय पहले की बात है। भीमसेन नामक एक राजा अपने राज्य में सुख से राज किया करते थे। वे एक पुरुषार्थी और चक्रवर्ती सम्राट थे।मगर उनके राज ज्योतिष ने धीरे धीरे उनकी मति ज्योतिष की तरफ पूरी तरह से मोड़ दी थी। अतः वे मुहूर्त जाने बिना कोई भी काम नहीं करते थे। राजा के इस व्यवहार से प्रजा और सभासद सभी को बड़ी चिंता होने लगी। एक दिन राजा भीमसेन अपने राज्य के दौरे पर निकले। उनके साथ राज ज्योतिष भी थे। तभी उन्हें रास्ते में एक किसान मिला जो हल-बैल लेकर खेत जोतने जा रहा था। राज ज्योतिष ने उसे रोककर कहा, “अरे मूर्ख! … [Read more...]