सिर्फ परिवर्तन ही स्थायी है

मेरा blog पढने वालों को कुछ दिन से इसमें कई परिवर्तन नज़र आ रहे होंगे।

किसी ने सही कहा है सिर्फ परिवर्तन ही स्थायी है, बाकी तो सब बदल जाता है। मेरा blog भी इस वक़्त एक परिवर्तन के दौर से गुजर रहा है।

जब मैंने अपना blog start किया था, उस समय सोचता था क्या मैं 50 post भी डाल पाउँगा ? मैंने सोचा अभी सिर्फ मैं post डालने के बारे में सोचूं, बाकी चीजों पर बाद में ध्यान दूंगा। मैं लिखता रहा, बीच में सुस्त भी पड़ा लेकिन फिर से सक्रिय हुआ। धीरे-धीरे इसमें posts की संख्या बढती रही और एक दिन 50 का आंकड़ा पार हो गया। आज इसमें 55 से ज्यादा post हो चुकी है और अभी लिखने के लिए काफी कुछ बाकी है।

Blogging करना अपनी डायरी लिखने जैसा नहीं है, जहाँ हम अपनी डायरी को छुपा कर रखते हैं और सोचते हैं कि ये किसी के हाथ ना आये। Blogging करते वक़्त हम सोचते हैं कि इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों द्वारा पढ़ा जाए और कुछ appreciation मिल जाए तो वो bonus जैसा हो जाता है।

मैं भी जब कोई article लिखता और post करता हूँ तो यही सोचता हूँ कि इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों द्वारा पढ़ा जाए। मुझे तक़रीबन एक साल हो गया है blogging करते हुए और इस दौरान मैंने महसूस किया, सिर्फ लिखते रहने का मतलब ये कतई नहीं है कि इसे पढ़ा भी जायेगा। ये internet की दुनिया है और यहाँ अपनी बात लोगों तक पहुँचाने के लिए सिर्फ लिखते रहने के अलावा भी बहुत कुछ करना पड़ता है।

मैंने भी अब इसके बारे में सोचना शुरू कर दिया है। इसलिए अपने blog की पहुँच और अधिक लोगों तक बनाने के लिए मैंने इसमें कुछ परिवर्तन करने शुरू किये हैं। जैसे कि इसका नाम www.achchisalah.blogspot.in से बदलकर www.hindiera.com रख दिया है। कुछ चीजें छोटी ही अच्छी लगती हैं। और नाम तो छोटा ही होना चाहिए चाहे इन्सान का हो या blog का, जल्दी याद हो जाता है ना…. 

इसलिए मैंने भी नाम छोटा कर दिया, अब आप www.achchisalah.blogspot.in या www.achchisalah.blogspot.com को open करेंगे तो भी आप www.hindiera.com की ओर redirect कर दिए जायेंगे। यहाँ पर मैं अपने experience से कह रहा हूँ कि जब भी आप अपने blog का नाम final कर रहे हों तो कई नाम सोच कर रखें क्योंकि ये जरूरी नहीं कि जो नाम आपने सोचा है वो आपको मिल ही जायेगा। जब आप godaddy, bigrock  या किसी दूसरी domain registration website पर domain search करते हैं तो बहुत बार निराशा हाथ लगती है क्योंकि जो नाम आपने सोचा है वो पहले से ही कोई या तो register करा चुका होता है या फिर कई बार वो premium domain होता है जिसके लिए बहुत अधिक पैसे चुकाने पड़ते हैं। और अगर आपका सोचा हुआ domain search करने पर available हो तो उसको register करने में देर ना करें। क्योंकि अगर आपने देर की तो हो सकता है दुबारा search करने पर आपको message मिले….pleas try again, this domain is taken.

इसके अलावा पहले मैं अपने blog पर blogger द्वारा उपलब्ध कराये गए टेम्पलेट ही use करता था। ये mobile friendly template नहीं था। आजकल काफी लोग mobile पर ही blog पढ़ते हैं क्योंकि हर काम के लिए desktop या laptop खोलना बोझिल लगता है। और जो काम mobile पर ही हो जाए उसके लिए क्यों desktop या laptop computer को तकलीफ़ दी जाए। इसे ही ध्यान में रखते हुए मैंने भी अब अपने blog पर mobile friendly template लगा दिया है। जिससे अब आप www.hindiera.com को mobile पर बिलकुल computer की तरह ही देख सकेंगे। अब mobile से ही blog का e-mail subscription भी लिया जा सकता है और साथ ही आप अपने comment भी mobile के द्वारा share कर सकते हैं। अब आप mobile से ही www.hindiera.com के article अपने दोस्तों के साथ social networking sites like Google+, Facebook, Twitter, Linkdin और whatsapp पर  भी share कर सकते हैं।

उम्मीद है आपको ये परिवर्तन पसंद आयेंगे और इस blog के प्रति लोगों का बढ़ता प्यार और बढ़ता रहेगा।


हमारा कोई article पसंद आने पर अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।
facebook page like करने के लिए यहाँ click करें – https://www.facebook.com/hindierablog/
Keywords – change is only constant, parivartan, सिर्फ परिवर्तन ही स्थायी है
If you enjoyed this article, Get email updates (It’s Free)

Comments

  1. thanks for the life changing post. It really very heart touching.

  2. अच्छा प्रयास आप से प्रेरणा ले कर में भी आज से एक नया ब्लॉग शुरू किया है कृपया देख केर कमेंट करें

    http://kucugrabaatein.blogspot.in/

Leave a Reply